NEWSUTTAR PRADESH

UP के शहरों में अब हवाई जहाज से की जाएगी ऑक्सीजन की आपूर्ति

त्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना की चेन को तोड़ने और मरीजों को ऑक्सीजन की तत्काल सुविधा मुहैया कराने के लिये अब हवाई जहाज का प्रयोग करने का बड़ा फैसला लिया है। योगी सरकार ऑक्सीजन की कमी को नियंत्रित करने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस चला रही है। इसके माध्यम से बोकारो से लिक्विड ऑक्सीजन मंगवा रही है।

सौरभ शुक्ला
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना की चेन को तोड़ने और मरीजों को ऑक्सीजन की तत्काल सुविधा मुहैया कराने के लिये अब हवाई जहाज का प्रयोग करने का बड़ा फैसला लिया है। सरकार का जोर प्रदेश के समस्त जिलों में हो रही ऑक्सीजन की कमी को जल्द पूरा करना है। शनिवार को टीम 11 के साथ बैठक में जारी किए गए निर्देशों में यूपी में ऑक्सीजन को एयरलिफ्ट करने का फैसला लिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि एक हवाई जहाज से 2 खाली टैंकर बोकारो पहुंचाए जाएंगे और वहां से भरे हुए टैंकर ट्रैन से लखनऊ आएंगे। योगी सरकार ऑक्सीजन की कमी को नियंत्रित करने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस चला रही है। इसके माध्यम से बोकारो से लिक्विड ऑक्सीजन मंगवा रही है। पहली खेप लखनऊ पहुंच चुकी है। वहीं दूसरी खेप लाने लिए एक्सप्रेस रवाना हो गई है। इस बीच यूपी के लिए अब ऑक्सीजन एयरलिफ्ट कर पहुंचाने की तैयारी कोरोना से संक्रमित मरीजों और घरों में आइसोलेट मरीजों को काफी राहत देगी। उनको ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी जाएगी।

योगी सरकार ने ऑक्सीजन एयरलिफ्ट के दिए निर्देश
योगी सरकार ने पश्चिमी यूपी के लिए हिंडन से ऑक्सीजन एयरलिफ्ट कराने की व्यवस्था के कड़े निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा है कि सरकार का उद्देश्य प्रत्येक व्यक्ति की जान बचाना है, इसके लिए जो भी संभव प्रयास किये जा सकें, उनको पूरी ईमानदारी के साथ किया जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि लखनऊ और वाराणसी में डीआरडीओ की ओर से बनाए जा रहे दो कोविड अस्पताल 30 अप्रैल तक क्रियाशील हो जाएंगे। काफी हद तक इनका काम पूरा हो चुका है। इन अस्पतालों के बन जाने के बाद कोरोना मरीजों को तत्काल इलाज के साथ अनुभवी डॉक्टरों से इलाज भी मिलना शुरू हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!