NEWSUTTAR PRADESH

CM योगी आदित्यनाथ ने किया कानपुर और इटावा का दौरा, कोरोना को लेकर वर्तमान हालात और तीसरी लहर की तैयारियों के देखे इंतजाम

सौरभ शुक्ला
कानपुर नगर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग वैक्सीन का विरोध करते थे वह लोग आज तारीफ कर रहे हैं। वहीं भारत सरकार की मदद से समय रहे थे। हमने जनता तक ऑक्सीजन पहुंचाई है इसलिए भारत सरकार का धन्यवाद भी करते हैं। हमारी सरकार के द्वारा कम्युनिटी किचन का इंतजाम कराया गया है। जिससे मरीजों तक कम्युनिटी किचन का खाना पहुंच सके। पूरे उत्तर प्रदेश में जल्द ही ऑक्सीजन के प्लांट लग कर तैयार हो जाएंगे। जिससे ऑक्सीजन की किल्लत का सामना नहीं करना पड़े।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को कानपुर और इटावा में कोरोना को लेकर वर्तमान हालात और तीसरी लहर की तैयारियों के इंतजाम देखे। कहा कि प्रदेश में 10 साल से छोटे बच्चों के अभिभावकों का जल्द टीकाकरण कराया जा रहा है, जिससे तीसरी लहर में सबको सुरक्षित रखा जा सके। इससे बच्चों के संक्रमित होने की स्थिति में तीमारदारी में लगे माता-पिता बचे रहेंगे। अखिलेश का बिना नाम लिए कहा, वैक्सीन खराब बताने वाले अब लगवाने की बात कह रहे हैं। वहीं, ब्लैक फंगस के इलाज का सेंटर कानपुर में बनेगा। कानपुर में केडीए सभागार में बैठक के दौरान कहा कि नगर निगम के एक अस्पताल को बच्चों का अस्पताल बनाया जाएगा।

फर्रुखाबाद और कानपुर देहात में खराब वेंटिलेटर नहीं बदलने पर नाराजगी जताई। साथ ही गणेश शंकर विद्यार्थी मेमोरियल (जीएसवीएम) मेडिकल कालेज के प्राचार्य प्रो. आरबी कमल पर नाराज हुए कि जैसी अपेक्षा थी, मेडिकल कालेज ने वैसा काम नहीं किया। इसे तो संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआइ) और किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) की तरह लीडर की भूमिका निभानी चाहिए थी। सवाल उठाया कि 17 सौ बेड होने के बावजूद सिर्फ 350 बेड कोविड के लिए रखना कहां तक उचित है। वहीं, शनिवार को पहली बार इटावा के सैफई में उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय में कोरोना को लेकर इंतजाम देखने के बाद कहा कि मई के अंत तक दूसरी लहर के खत्म होने की संभावना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में सरकार मजबूती के साथ कोरोना से लड़ाई लड़ रही है। केंद्र सरकार के सहयोग से 300 आक्सीजन प्लांट लगाकर प्रदेश के प्रत्येक जिले को आक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बना रहे हैं। सभी मेडिकल कॉलेज में 100 पीडियाट्रिक आइसीयू बेड और जिला अस्पतालों में 25 आइसीयू बेड स्थापित किए जाएंगे।

कहा कि प्रदेश के लिए भविष्यवाणी की गई थी कि एक लाख केस 25 अप्रैल से 10 मई के बीच आएंगे, लेकिन 24 अप्रैल को सर्वाधिक 38 हजार केस आए, जो अब घटकर छह हजार बचे हैं। एक्टिव केस तीन लाख 10 हजार के सापेक्ष घटकर 94 हजार हैं। प्रदेश में एक करोड़ 62 लाख लोगों को निश्शुल्क वैक्सीन लगाई जा चुकी है। 18 से 44 आयु वर्ग में 23 जिलों में वैक्सीनेशन हो रहा है। जून में लक्ष्य दोगुना करके अन्य जिलों को शामिल किया जाएगा। हर जिले में मीडिया कर्मियों, जजों का वैक्सीनेशन कराया जा रहा है। इटावा में एक लाख 20 हजार लोगों के वैक्सीन लगवाने को लेकर प्रशंसा की। कहा कि हर जिले में कम्युनिटी किचन से जरूरतमंदों को भोजन मिलेगा। इसके लिए सांसद, विधायक भी आगे आएंगे। जून से लेकर अगस्त तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण खाद्यान्न योजना का राशन 15 करोड़ लोगों को मुफ्त दिया जा रहा है। दो करोड़ जरूरतमंदों को एक हजार रुपये भत्ता मिलेगा।

प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट देश में सबसे अच्छा
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट पहले 17 फीसद था, जो घटकर अब 2.4 फीसद रह गया है। रिकवरी रेट अब 93 फीसद है, जो देश में सबसे अच्छा है। इटावा का पॉजिटीविटी रेट एक समय 30 फीसद था, जो अब घटकर दो फीसद से नीचे आ गया है।

विपक्ष पर साधा निशाना
सीएम योगी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग वैक्सीन का विरोध करते थे वह लोग आज तारीफ कर रहे हैं। वहीं भारत सरकार की मदद से समय रहे थे। हमने जनता तक ऑक्सीजन पहुंचाई है इसलिए भारत सरकार का धन्यवाद भी करते हैं। हमारी सरकार के द्वारा कम्युनिटी किचन का इंतजाम कराया गया है। जिससे मरीजों तक कम्युनिटी किचन का खाना पहुंच सके। पूरे उत्तर प्रदेश में जल्द ही ऑक्सीजन के प्लांट लग कर तैयार हो जाएंगे। जिससे ऑक्सीजन की किल्लत का सामना नहीं करना पड़े।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!