NEWS

CM ममता ने केंद्रीय मंत्रियों पर लगाया हिंसा भड़काने का आरोप

माध्वी अग्रवाल
कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को केंद्रीय मंत्रियों पर चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद राज्य में हुई हिंसा को भड़काने का आरोप लगाया। साथ ही ममता ने हिंसा के कारण प्रभावित लोगों के लिए कई घोषणाएं कीं। ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में चुनाव के बाद हुई हिंसा में 16 लोगों की जान चली गई। इसके साथ ही उन्होंने प्रत्येक मृतक के परिवार के लिए दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि की घोषणा की।

TMC प्रमुख ने एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान कहा कि उनकी सरकार पिछले महीने कूचबिहार के सीतलकूची इलाके में CAPF की गोलीबारी में मारे गए सभी पांच व्यक्तियों में से प्रत्येक के परिवार के एक सदस्य को होमगार्ड की नौकरी देगी। उन्होंने कहा कि एक CID टीम ने 10 अप्रैल को विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार में गोलीबारी की घटना की जांच शुरू की है।

हिंसा में 16 लोगों की मौत

ममता ने कहा कि चुनाव के बाद की हिंसा में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई, जिनमें ज्यादातर BJP और TMC के कार्यकर्ता और संयुक्त मोर्चा के एक कार्यकर्ता शामिल हैं। हम उनके परिवार के सदस्यों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सीतलकूची घटना के मृतकों के परिजन को होम गार्ड की नौकरी भी देगी।

केंद्रीय नेताओं पर लगाया हिंसा भड़काने का आरोप

भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भगवा पार्टी के लोगों ने अभी तक जनादेश को स्वीकार नहीं किया है। उन्होंने केंद्रीय नेताओं पर राज्य में हिंसा भड़काने का आरोप लगाया। ममता ने कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में मेरे शपथ लेने के 24 घंटे भी नहीं बीते हैं और पत्र मिलने लगे हैं, एक केंद्रीय टीम पहुंची है। ऐसा इसलिए है क्योंकि BJP ने अभी तक आम लोगों के जनादेश को स्वीकार नहीं किया है। मैं भगवा पार्टी के नेताओं से जनादेश को स्वीकार करने का अनुरोध करूंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कृपया हमें कोविड की स्थिति से निपटने पर ध्यान केंद्रित करने दें।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!