NEWS

18 वर्ष के ऊपर के लोगों के लिए दिल्ली में टीकाकरण अभियान की हुई सांकेतिक शुरुआत , केजरीवाल बोले, 3 मई से लगेगा सभी जगहों पर टीका

मनप्रीत कौर
नई दिल्ली। देश के विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में 18 से 44 आयुवर्ग के लिए टीकाकरण के पहले दिन शनिवार को विभिन्न लोगों को कोविड-19 रोधी टीके लगाये गए। हालांकि कई जगह पर टीके की खुराक उपलब्ध नहीं होने के चलते टीकाकरण अभियान शुरू नहीं हो सका। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 18-44 साल की उम्र के लोगों के लिये कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण की शुरूआत सोमवार से होगी। हालांकि केजरीवाल राजधानी के सरस्वती विहार में एक टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे और इस अभियान की ‘सांकेतिक शुरूआत’ की।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकार को टीके की 4.5 लाख खुराक प्राप्त हुयी है। मुख्यमंत्री ने कहा, ”दिल्ली में 18-44 वर्ष के लोगों के लिये टीकाकरण की शुरूआत तीन मई से होगी। हमें 4.5 लाख टीके प्राप्त हुये हैं और उन्हें सभी जिलों में भेजा जा रहा है।” केजरीवाल ने लोगों से आग्रह किया कि वह टीकाकरण केंद्रों पर कतार नहीं लगायें क्योंकि इस तरह से टीकाकरण की अनुमति नहीं है।

शनिवार को देश के अलग अलग हिस्सों में 18 वर्ष से ऊपर के लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया। महाराष्ट्र में भी कोरोना का टीका लगाया गया। महाराष्ट्र में जन स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि महाराष्ट्र में शनिवार को 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के व्यक्तियों को टीका लगाने के पहले दिन इस आयुवर्ग के 11,492 लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग की आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि नई श्रेणी के लिए टीकाकरण अभियान राज्य के 26 जिलों में चलाया गया और यह रविवार से सभी 36 जिलों में शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने कहा है कि लोगों को पहले को-विन ऐप या पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण किए बिना टीकाकरण केंद्रों पर नहीं जाना चाहिए।

मुंबई में शनिवार को 18 से 44 साल की आयु के व्यक्तियों को टीका लगाने के पहले दिन 1,000 लोगों की टीका लगाया गया। बृह्नमुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी ने कहा कि नगर निकाय ने रविवार को 18 से 44 साल की आयु के 2,500 लोगों की टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘आज हमने अपने पांच केन्द्रों में से प्रत्येक केन्द्र में 18 से 44 वर्ष की आयुवर्ग के 200 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था, जिसे हासिल कर लिया गया है। प्रत्येक केन्द्र में 200 लोगों की टीका लगाए जाने का अनुमान है।”

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा था कि 18-44 आयु वर्ग के लिए टीक की खुराक उपलब्धता के अनुसार दी जाएगी और लोगों को टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ नहीं लगानी चाहिए। इस बीच, मुख्यमंत्री द्वारा टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ नहीं लगाने की अपील के बावजूद, उपनगरीय अंधेरी में एक टीकाकरण केंद्र में पहले ही दिन लोगों की भारी भीड़ देखी गई। बीएमसी के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘अंधेरी केंद्र में बहुत से लोग बिना पंजीकरण के आ गए थे जिससे वहां यह प्रक्रिया प्रभावित हुई।’’

भारत में 24 घंटे में कोरोना के 4,01,993 नए मामले आए हैं। इसके बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,91,64,969 हुई। शनिवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई इस जानकारी के साथ बताया गया कि 3,523 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 2,11,853 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 32,68,710 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,56,84,406 है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस की 27,44,485 वैक्सीन लगाई गईं, जिसके बाद कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 15,49,89,635 हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!