NEWS

संकट के इस काल में भी दवाईयों के नाम पर लोग कर रहे हैं कालाबाजारी, आर माधवन का फूटा गुस्सा

एक्टर आर. माधवन (R Madhavan) ने ऑक्सीजन और दवाईयों के नाम पर चल रहे कालाबाजारी पर अपना गुस्सा व्यक्त किया है. इसके लिए एक्टर ने ट्वीट कर ऐसे लोगों का पर्दाफाश किया है।

नेहा पाठक
नई दिल्ली। पूरा देश कोरोना की चपेट में आ चुका है। सरकार, प्रशासन हर कोई इससे हर लड़ने का हर संभव प्रयास कर रहा है. संकट के इस काल में जहां देश ऑक्सीजन और दवाईयों की कमी से लड़ रहा है। लेकिन मुश्किल के इस समय में भी कुछ लोग ऐसे हैं जो इंसानियत के नाम पर धब्बा है।

जहां हर कोई इस महामारी से लड़ रहा है तो न जानें कितनों ने अपने करीबियों और दोस्तों को खो दिया। प्रतिदिन जहां लोग इलाज न होने या समय पर दवा न मिलने की वजह से मर रहे हैं तो कुछ लोगों ने इस महामारी को भी अपने कमाई का जरिया बना लिया है।

इसी बीच एक्टर आर. माधवन (R Madhavan) ने इसे लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया है। ट्वीट करते हुए एक्टर ने एक फोटो भी साझा किया है जिसमें लिखा है कि फ्रॉड एलर्ट, मिस्टर अजय अग्रवाल तीन हजार रुपये में रेमडेसिवीर दवा उपलब्ध करवा रहे हैं।

यह आपसे आईएमपीएस के जरिए पैसे एडवांस में लेंगे ताकि वह पैन इंडिया के जरिए तीन घंटे में आप तक डिलीवर करवा सकें. बाद में वह फोन नहीं उठाएंगे. ऐसे जालसाजों से सर्तक रहें।

इसके साथ ही एक मोबाइल नंबर भी साझा किया गया है। फोटो को शेयर करते हुए एक्टर (R Madhavan Tweet) ने लिखा है कि मुझे यह मैसेज प्राप्त हुआ. प्लीज सावधान रहें, हमारे साथ ऐसे शैतान भी रहते हैं।

वर्क फ्रंट की बात करें तो माधवन (R Madhavan Films) OTT प्लेटफॉर्म पर फिल्म ‘रॉकेट्री: द नांबि इफैक्ट’ में नजर आने वाले है। इसका ट्रेलर रिलीज किया जा चुका है. फिल्म ‘रॉकेट्री: द नांबि इफेक्ट’ एक बायोपिक है जो देश के मशहूर साइंटिस्ट नांबी नारायणन पर आधारित है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!