NEWSUTTAR PRADESH

यूपी सीएम ने ब्लैक फंगस के मरीजों को इलाज के लिए जरूरी सुविधाएं मुहैया कराए जाने के भी दिए निर्देश

अखिलेश कुमार
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना नेगेटिव हो चुके मरीजों के लिए नया आदेश जारी किया है। इसके मुताबिक कोविड निगेटिव होने के बाद पोस्ट कोविड दिक्कतें झेल रहे मरीजों का फ्री में इलाज होगा। यूपी सरकार ने ये फैसला तब लिया है जब कई मरीजों को कोरोना से ठीक होने के बाद भी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. विशेषज्ञों ने भी इस बाबत साफ कहा है कि कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों का भी ध्यान रखना होगा।

यूपी में कोविड19 के प्रबंधन के लिए गठित टीम-09 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश देते हुए कहा, ”टेस्ट, ट्रेस और ट्रीट के मंत्र के अनुरूप कोरोना के खिलाफ हमारी रणनीति कारगर सिद्ध हो रही है। कोविड टेस्टिंग भी तेज हो रही है साथ ही दैनिक केस में भी कमी आती जा रही है और रिकवरी दर बेहतर हो रही है। वर्तमान में प्रदेश में कुल 62,271 एक्टिव कोरोना मरीज हैं।

यूपी सीएम ने ब्लैक फंगस के मरीजों को इलाज के लिए जरूरी सुविधाएं मुहैया कराए जाने के भी निर्देश जारी किए हैं। आज से UP में एसजीपीजीआई के विशेषज्ञ भी इन मरीजों की स्थिति पर सीधी नजर रखेंगे। लखनऊ, मेरठ, गोरखपुर, वाराणसी सहित जहां कहीं भी ब्लैक फंगस के मरीजों का इलाज हो रहा है, एसजीपीजीआई के विशेषज्ञों के सुपरविजन में होगा। योगी ने निर्देश दिए कि स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग सभी अस्पतालों के सतत सम्पर्क में रहें, कहीं भी उपयोगी दवाओं का अभाव न हो।

CM योगी ने निर्देश दिए, स्वास्थ्य विभाग के अधीन संचालित सभी पीएचसी, सीएचसी, हेल्थ सेंटर, जिला अस्पताल की सुविधाओं का एक डेटाबेस तैयार किया जाए. इनकी जियो मैपिंग करते हुए किस केंद्र पर कितने डॉक्टर हैं, पैरामेडिकल स्टाफ की स्थिति क्या है, दवाओं की उपलब्धता कितनी है, बिल्डिंग, इंस्ट्रूमेंट्स की क्या स्थिति है, इसकी जानकारी देने वाला मोबाइल एप्लिकेशन विकसित किया जाना चाहिए। यह आमजनता के लिए उपयोगी होगा। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि पोस्ट कोविड मरीजों और ब्लैक फंगस की समस्या से ग्रस्त मरीजों और उनके घर वालों से हर दिन बात की जाए. उनकी सभी आवश्यकताओं का ध्यान रखा जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!