NEWSUTTAR PRADESH

यूपी में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिले CM योगी, मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें हुई तेज

ज्योति सिंह चौहान
लखनऊ। पूर्वांचल के जिलों में चार दिनों तक कोरोना के हालात की समीक्षा करने के बाद लखनऊ लौटे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को देर शाम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की। इस मुलाकात के साथ ही प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार की सुगबुगाहट तेज हो गई है। माना जा रहा है कि कुछ लोगों को सरकार से संगठन में लाया जाएगा और कुछ लोग संगठन से मंत्रिमंडल में लाए जा सकते हैं। हालांकि प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने इसे शिष्टाचार भेंट करार दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार से प्रदेश के दौरे पर थे। वह 24 मई को देवीपाटन व आजमगढ़ के दौरे पर गए थे। तब से वह लखनऊ नहीं लौटे थे। चार दिन बाद वह लौटे और शाम करीब 7 बजे के आसपास राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर उन्हें दौरे के बारे में पूरी जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने उन्हें श्री विष्णु और उनके अवतार नामक पुस्टक भेंट की। मुख्यमंत्री इस दौरान करीब 50 मिनट से ऊपर तक उनके मंत्रणा करते रहे। दरअसल, हाल के दिनों में मुख्यमंत्री की राज्यपाल से यह सबसे लंबी भेंट थी। आमतौर पर वह 30 से 35 मिनट तक शिष्टाचार भेंट कर लौट आते थे।

एमएलसी एके शर्मा को मिल सकता है बड़ा पद

इस मुलाकात के बीच सियासी गलियारे में मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं तेज हो गईं। दरअसल, प्रदेश में फिलहाल 53 मंत्री हैं। मंत्रिमंडल में 60 मंत्री हो सकते हैं। नतीजतन, सात मंत्रियों को और शामिल किया जा सकता है। हाल ही में कोरोना से तीन मंत्रियों चेतन चौहान, कमला रानी वरुण और विजय कश्यप की मृत्यु हो चुकी है। हाल ही में गुजरात काडर के आईएएस से विधान परिषद सदस्य बने एके शर्मा को मंत्रिमंडल में बड़ा पद मिलने की सुगबुगाहट फिर तेज हो गई है।

वहीं जिस तरह पिछली बार कुछ मंत्रियों को सरकार से संगठन में लाया गया था, उसी तर्ज पर इस बार भी एक वरिष्ठ मंत्री को संगठन की कमान सौंपे जाने की संभावना जताई जा रही है। वहीं कुछ मंत्रियों जिनकी कार्यशैली पर सवाल उठे थे, मुख्यमंत्री उन्हें हटाना चाहते हैं। वहीं कुछ नए चेहरों को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है। ऐसा करके मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय व जातीय संतुलन साधने की कोशिश हो सकती है। वहीं सरकार के स्तर पर इसे कोरी अटकलें करार दिया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!