NEWSUTTAR PRADESH

यूपी में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पर हम जल्दी नियंत्रण पा लेंगे : CM योगी

अखिलेश कुमार
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पर हम जल्दी नियंत्रण पा लेंगे। पिछले 12 दिन में एक लाख छह हजार सक्रिय केस कम हुए हैं। संभावित तीसरी लहर से लडऩे की तैयारी कर रहे हैं। इस क्रम में प्रदेश के हर जनपद में महिलाओं और बच्चों के लिए अलग (डेडिकेटेड) अस्पताल के साथ-साथ पीडियाट्रिक आईसीयू की व्यवस्था की जा रही है।

सीएम योगी गुरुवार को लगभग नौ घंटे आगरा, अलीगढ़ और मथुरा जनपद के प्रवास पर रहे। कोविड से जुड़ी व्यवस्थाओं-तैयारियों की समीक्षा के साथ-साथ अफसरों-जनप्रतिनिधियों से फीडबैक भी लिया। कोरोना संक्रमितों से गांव जाकर सीधे बातचीत भी की। मुख्यमंत्री ने कहा- ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति पर ‘अर्ली एंड एग्रेसिव कैंपेन’ चलाया गया, जिसके सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं। कान्टेक्ट ट्रेसिंग को और प्रभावी बनाने पर जोर दिया जा रहा है। इससे हम संक्रमित व्यक्तियों की जल्द पहचान कर सकेंगे, जो कोरोना की चेन तोड़ने में कारगर सिद्ध होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑक्सीजन एवं जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध कठोरतम कानूनी कार्रवाई हो। जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि निजी चिकित्सालय एवं निजी एम्बुलेंस द्वारा निर्धारित दर से अधिक शुल्क न लिया जाए। सीएम ने कहा कि महामारी के खिलाफ हमें सामूहिक रूप से लड़ना होगा। कोरोना वॉरियर्स का मनोबल बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग ऐसी हरकतें न करें जिससे कोरोना की लड़ाई प्रभावित हो।

ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सामान्य दिनों में 300 मीट्रिक टन की खपत होती थी। दूसरी लहर में मांग बढ़कर एक हजार मीट्रिक टन से ज्यादा हो गई। केंद्र के सहयोग से प्रदेश में 1,031 मीट्रिक टन आक्सीजन की आपूर्ति हो रही है। साथ ही प्रधानमंत्री केयर फण्ड से राज्य को 161 आक्सीजन प्लाण्ट लगाने की सहमति मिली है। वर्तमान में 377 नये आक्सीजन प्लाण्ट के लिए कार्य संचालित है। प्रदेश में 20 हजार से अधिक आक्सीजन कंसन्ट्रेटर उपलब्ध कराये गये हैं। गांव-गांव तक ऑक्सीजन की कमी ना हो इसलिए टास्क फोर्स बनाकर काम किया जा रहा है।

एएमयू को हर संभव मदद

सीएम ने कहा कि वह प्रधानमंत्री के निर्देश पर एएमयू आए हैं। कोविड वैक्सीन को लेकर कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं। वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। सरकार बिना भेदभाव सभी को मुफ्त टीका लगा रही है। एएमयू में हुई मौतों पर दुख जताते हुए उन्होंने कहा कि, पहले चरण में लोग वैक्सीन नहीं लगवा पाए थे। यह भी एक बड़ा कारण है। उन्होंने ऑक्सीजन सप्लाई के साथ हरसंभव मदद का भी आश्वासन दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!