NEWSUTTAR PRADESH

यूपी: कोरोना वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाना पड़ेगा महंगा

अखिलेश कुमार
लखनऊ। देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ने के लिए सरकार ने टीकाकरण अभियान शुरू किया है। वहीं कई लोग ऐसे हैं जो इसे लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैला रहे हैं। इसकी वजह से लोग टीका लगवाने से कतरा रहे हैं। इनसे निपटने के लिए यूपी सरकार ने एक योजना बनाई है। इसके तहत टीके को लेकर अफवाह फैलाने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण को लेकर अलग-अलग तरह की अफवाहें फैलाई जा रही हैं, जिसकी जानकारी के बाद शासन ने सख्त रुख अपनाया है।

सभी जिलों के जिलाधिकारियों व मुख्य चिकित्साधिकारियों के साथ-साथ पुलिस अधिकारियों को गुरुवार को भेजे गए निर्देश में शासन ने कहा है कि तमाम जिलों से मिली सूचना के अनुसार शहरी क्षेत्रों में छिटपुट तो ग्रामीण क्षेत्रों में अनेक स्थानों पर टीके को लेकर कुछ शरारती तत्व अफवाहें फैलाकर टीकाकरण अभियान में बाधा डालना चाहते हैं। इसे किसी भी दशा में स्वीकार नहीं किया जा सकता।

देशहित में टीकाकरण अत्यंत जरूरी है। अफवाहें फैलाने वालों को तत्काल चिन्हित कर उन्हें समझाया जाए कि यह टीकाकरण उन सबके लिए जरूरी है और इससे लोग कोरोना से सुरक्षित हो सकेंगे। इसके बाद भी अगर लोग बाधा उत्पन्न करें तो उनसे सख्ती से निपटा जाए।

निर्देश में यह भी कहा गया है कि अगर समझाने के बाद भी अफवाहें फैलाने वाले नहीं मानें तो उनके विरुद्ध महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाए। राज्य सरकार ने जुलाई से प्रतिदिन 10 लाख लोगों को टीके लगाने की योजना तैयार कर रखी है। सरकार 31 अगस्त तक 10 करोड़ व दिसंबर तक सभी प्रदेशवासियों के टीकाकरण का लक्ष्य तय कर अभियान चला रही है। इसमें कुछ शरारती तत्व जान बूझकर अफवाहें फैला रहे हैं ताकि अभियान में बाधा आए।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!