GamesNEWS

भारत के लिए मेडल जीतकर लाने वाले ओलंपियन सुशील कुमार ‘Railway’ की नौकरी से हुए सस्पेंड

दिव्या सिंह
नई दिल्ली। भारत के लिए मेडल जीतकर लाने वाले ओलंपियन सुशील कुमार पर एक पहलवान के मर्डर में संलिप्तता के आरोपों के बाद पुलिस केस दर्ज होने पर अब उत्तर रेलवे ने बड़ी कार्रवाई की है। सुशील कुमार पर एक पहलवान की हत्या का आरोप लगा है और इस बारे में एक मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके बाद नॉर्दन रेलवे ने उन्हें यातायात सेवा की नौकरी से 23 मई 2021 से सस्पेंड कर दिया है।

भारत के लिए ओलंपिक से पदक जीतकर लाने वाले सुशील कुमार इंडियन रेलवे ट्रेफिक सर्विस (IRTS) में JAG के पद पर तैनात थे। उत्तर रेलवे ने कहा है कि डी&नए रूल्स 1968 के नियम 5 (2) के हिसाब से सुशील कुमार को सेवा से सस्पेंड कर दिया गया है। सुशील कुमार को रविवार को हत्या के एक मामले में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उत्तर रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार सुशील पर FIR दर्ज होने के बाद नौकरी से सस्पेंशन की यह कार्रवाई की गई है।

सागर धनखड़ की हत्या के मामले में 18 दिन पुलिस की गिरफ्त से दूर रहने के बाद सोमवार सुशील को गिरफ्तार किया गया था। सुशील पर छत्रसाल स्टेडियम में 23 वर्षीय पहलवान सागर राणा की हत्या में शामिल होने का आरोप है। ओलंपियन सुशील के साथ अजय का नाम भी इस मामले में आ रहा है।

पुलिस की जाँच जारी

उत्तर रेलवे के वरिष्ठ कर्मशल मैनेजर के पद पर कार्यरत सुशील कुमार को दिल्ली सरकार ने छत्रसाल स्टेडियम में स्कूल में खेलों के विकास के लिए ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी (OSD) पर नियुक्त किया था। सागर धनखड़ की हत्‍या के मामले में ओलिंपियन सुशील कुमार के खिलाफ जांच चल रही है। दिल्‍ली पुलिस की नजर अब उस क्राइम नेटवर्क का पर्दाफाश करने पर है जिसका सुशील कुमार हिस्‍सा था। जेल में बंद गैंगस्‍टर नीरज बवाना भी इस नेटवर्क में शामिल बताया जा रहा है। पुलिस कह रही है कि उन्‍हें कुमार और बवाना के एक साथ काम करने से जुड़े कई और सबूत मिले हैं।

सुशील पर आरोप

4-5 मई की रात को सुशील कुमार ने न सिर्फ सागर धनखड़ को मारा-पीटा, बल्कि एक और शख्‍स सोनू की भी पिटाई की। सोनू एक कुख्‍यात अपराधी है जिसके ऊपर हत्‍या, रंगदारी और डकैती के 19 मामले दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार, सोनू और अन्‍य गुर्गों के सहारे जठेड़ी बड़े पैमाने पर दिल्‍ली की कई विवादित प्रॉपर्टी पर कब्‍जा करता जा रहा था।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!