NEWS

बंगाल में TMC की बड़ी जीत की स्क्रिप्ट लिखने वाले प्रशांत किशोर ने छोड़ा चुनावी प्रबंधन का काम, बोले- अब कुछ और करेंगे

माधवी अग्रवाल
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के चुनावी रणनीतिकार रहे प्रशांत किशोर ने चुनाव प्रबंधन का अपना पेशा छोड़ने का फैसला किया है। बंगाल विधानसभा चुनाव का परिणाम रविवार को सामने आने के बाद पीके ने यह ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि वह अब कुछ और करना चाहते हैं। गौरतलब है कि उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी की चुनावी रणनीतियां तैयार करने में अहम भूमिक निभाई थी। इसके बलबूते ममता बनर्जी की एक बार फिर सत्ता में वापसी का रास्ता साफ हो गया है।

प्रशांत किशोर ने रविवार को कहा कि वह इलेक्शन मैनेजमेंट और IPAC छोड़ रहे हैं क्योंकि अब वह कुछ और करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वह पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में अपने चुनावी प्रबंधन में लड़े गए विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और डीएमके की जीत से काफी खुश हैं। इसके अलावा उनका यह दावा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी की सीटें सिर्फ दहाई अंकों में सिमट जाएगी, के भी सच साबित होने से उन्हें काफी खुशी है।

बीजेपी के दहाई अंकों में सिमटने का किया था दावा

प्रशांत किशोर ने पश्चिम बंगाल चुनाव के नतीजे सामने आने से पहले दावा किया था कि अगर बीजेपी 100 से ज्यादा सीटें लेकर आती है तो वह अपना काम छोड़ देंगे। उन्होंने कहा था कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भगवा पार्टी की सीटें दहाई अंकों में ही सिमटकर रह जाएंगी। 2 मई यानी कि रविवार को सामने आए रुझानों में पीके का दावा सही होता दिखाई दे रहा है। बीजेपी को 80-85 के बीच सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। पीके ने कहा कि उनका यह दावा सही होने के बाद भी वह अब इस क्षेत्र में और काम नहीं करना चाहते।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!