NEWS

पूर्व IPS अधिकारियों ने PM नरेंद्र मोदी को लिखा खुला पत्र

समय टुडे डेस्क। पूर्व आइपीएस अधिकारियों ने कहा कि सात साल पहले मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से जटिल कश्मीर समस्या को सुलझाने के सरकार के साहसी और निर्णायक प्रयासों को नोटिस किया गया है। यह राष्ट्रीय गौरव का विषय है कि इन वर्षो में केंद्र सरकार ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए सभी तरह के कदम उठाए।

पत्र में कहा गया है कि अनुच्छेद 35-ए को समाप्त करने व अनुच्छेद-370 के प्रविधानों को निरस्त करने के निर्णय को प्रभावी रूप से अंजाम दिया गया और जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए सभी आवश्यक सावधानियां बरती गईं। सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारियों ने यह भी कहा कि सरकार में भविष्य की संभावनाओं का अनुमान लगाने की दूरदृष्टि है जो बेहद संतोषजनक है।

उन्होंने कहा कि अपराध और आतंकवाद पर नियंत्रण करने के लिए सरकार ने योजना बनाई। योजना को त्रुटिहीन तरीके से लागू किया गया और कश्मीर के मामलों में हमेशा हस्तक्षेप करने वाले पाकिस्तान को कठिन स्थिति में डाल दिया गया।

पत्र में कहा गया, ‘रोचक बात यह है कि पाकिस्तान अब जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा पुन: देने के लिए कह रहा है जिसका अर्थ है कि वह स्वीकार कर रहा है कि जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा है।’ पत्र में कहा गया कि राजनीतिक पार्टियों से मुलाकात करने संबंधी केंद्र सरकार की हालिया पहल और विश्वास बढ़ाने के लिए दिल की दूरी और दिल्ली की दूरी मिटाने का विचार एक नजीर है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!