NEWS

नई इनकम टैक्स साइट की कमियों पर निर्मला सीतारमण ने उठाया सवाल, IT कंपनी इंफोसिस और उसके को-फाउंडर टैग किया

नेहा पाठक
नई दिल्ली। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की नई ई-फाइलिंग वेबसाइट को लेकर यूजर्स से कई शिकायतें मिलने के बाद फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को इसे लेकर IT कंपनी इंफोसिस और उसके को-फाउंडर नंदन नीलेकणि को टैग किया। सीतारमण ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इंफोसिस और नीलेकणि टैक्सपेयर्स को दी जा रही सर्विसेज की क्वालिटी को गिरने नहीं देंगे।

सीतारमण ने ट्वीट में कहा, “नया ई-फाइलिंग पोर्टल लॉन्च होने के बाद से मुझे शिकायतें और कमियां दिख रही हैं। मैं उम्मीद करती हूं कि इंफोसिस और नीलेकणि टैक्सपेयर्स को दी जा रही सर्विसेज की क्वालिटी को गिरने नहीं देंगे। टैक्सपेयर के लिए कम्प्लायंस में आसानी हमारी प्रायरिटी होनी चाहिए।”

इंफोसिस को दो वर्ष पहले नए इनकम टैक्स फाइलिंग सिस्टम को डिवेलप करने का कॉन्ट्रैक्ट दिया गया था। इसका उद्देश्य टैक्स रिटर्न की प्रोसेसिंग में होने वाली देरी को कम करना और जल्द रिफंड देना है।

इससे पहले इंफोसिस ने सरकार के GST नेटवर्क (GSTN) पोर्टल को भी डिवेलप किया था जिसका इस्तेमाल GST के भुगतान और रिटर्न फाइल करने के लिए होता है। इस पोर्टल में भी बहुत सी कमियां थी जिसे लेकर इंफोसिस को आलोचना का सामना करना पड़ा था।

इनकम टैक्स की नई वेबसाइट के लॉन्च से बाद से इस पर काफी ट्रैफिक है। यूजर्स को इस वेबसाइट पर तकनीकी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। कुछ यूजर्स ने सोशल मीडिया पर शिकायत की है कि इसके कुछ फीचर्स लोड होने में अधिक समय ले रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!