NEWSUTTAR PRADESH

ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती भाषा विश्वविद्यालय में ‘रिसर्च मेथाडोलॉजी’ विषय पर ऑनलाइन राष्ट्रीय संगोष्ठी का हुआ आयोजन

अनुराधा सिंह
लखनऊ। ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती भाषा विश्वविद्यालय में आज दिनांक 31.07. 2021 को एनीईपी 2020 के अंतर्गत माननीय कुलपति प्रो शुक्ला की अध्यक्षता में ‘रिसर्च मेथाडोलॉजी’ विषय पर आनलाईन राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ एस के कौशल, व्यवसाय प्रबंधन विभाग, लखनऊ विश्वविद्यालय रहे।

अपने वक्तव्य में डॉ कौशल ने प्रतिभागियों को शोध के विभिन्न प्रकार, शोध मूल्यांकन के विभिन्न तरीके एवं प्रश्नावली तैयार करने के तरीके के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि शोध के लिए सही सैंपल का चुनाव करना अति आवश्यक है और यह भी बताया कि सैंपल से प्राप्त किए गए डाटा का विश्लेषण एवं एनालिसिस किस प्रकार किया जाना चाहिए।

अपने अध्यक्षीय भाषण में प्रो शुक्ला ने कहा कि शोध को समाज से जोड़ना अति आवश्यक है। शोध की रूपरेखा इस प्रकार तैयार की जानी चाहिए कि वह समाज पर दूरगामी प्रभाव डाल सके। साथ ही उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के शिक्षकों एवं विद्यार्थियों को शोध के क्षेत्र में ज़्यादा से ज़्यादा कार्य करने की आवश्यकता है।

कार्यक्रम में स्वागत भाषण पीएचडी समन्वयक, डॉ प्रियंका ने दिया। डॉ नीरज शुक्ल, शोध समन्वयक, ने कार्यक्रम का संचालन किया एवं धन्यवाद ज्ञापन प्रो एहतेशाम अहमद समन्वयक, रिसर्च डेवलपमेंट सेल द्वारा दिया गया। कार्यक्रम में प्रो केके मिश्रा (बीएचयू), डॉ पूजा मिश्रा (आईटी), प्रो चंदना डे, प्रो सैयद हैदर अली मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!