HEALTHNEWSUTTAR PRADESH

कोविड नेगेटिव महिला ने कोविड पॉज़िटिव बच्चे को दिया जन्म, बनारस से आई चौंकाने वाली ख़बर

गरुण कुमार
वाराणसी। यूपी के वाराणसी से एक बेहद चौंकाने वाली ख़बर सामने आई है। वाराणसी के बीएचयू (बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय) परिसर स्थित सर सुंदरलाल अस्पताल में एक नवजात बच्ची, जन्म के बाद ही कोविड-19 पॉज़िटिव हो गई। रिपोर्ट्स की मानें, तो बच्ची की मां डिलीवरी से पहले कोविड-19 नेगेटिव पाई गई थी। पेशे से बिज़नेसमैन, 32 वर्षीय अनिल प्रजापति ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि उसकी 26 वर्षीय पत्नी, सुप्रिया को 24 मई को सर सुंदरलाल अस्पताल में एडमिट करवाया गया। अस्पताल में भर्ती होने के बाद सुप्रिया का RT-PCR टेस्ट करवाया गया, टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई। सिज़ेरियन प्रक्रिया के ज़रिये 25 मई को सुप्रिया ने एक बच्ची को जन्म दिया।

अनिल ने मीडिया से बातचीत में बताया कि बच्ची का टेस्ट सैंपल ऑपरेशन थियेटर में ही लिया गया। बच्ची को घरवालों को दिखाने से पहले ही उसका RT-PCR Test करवाया गया और टेस्ट में वो कोविड-19 पॉज़िटिव पाई गई। बच्ची के पिता को ये बात समझ नहीं आई की जब मां कोविड नेगेटिव थी तो बच्ची कोविड पॉज़िटिव कैसे हो सकती है। अनिल को इस बात को लेकर संदेह हो रहा है कि टेस्ट सही से नहीं किया गया या फिर टेस्ट रिपोर्ट में कोई गड़बड़ी हो गई है।

नवजात बच्ची कोरोना पॉज़िटिव हो गई ये देखकर उसके माता-पिता ही नहीं, डॉक्टर्स भी हैरान हैं। अस्पताल के मेडिकल सुप्रिटेंडेंट, डॉ.के.के.गुप्ता ने मामले पर उठ रहे कई सवालों को शांत करने के लिये, मीडिया से बात-चीत में कहा कि ऐसी घटना कम ही सामने आती है लेकिन ये असमान्य घटना नहीं है. डॉ. गुप्ता ने मां की दोबारा RT-PCR टेस्ट करवाने की बात भी कही। अस्पताल के अधिकारियों ने सूचना दी की मां और बच्ची दोनों की ही हालात ठीक है।

वाराणसी के चीफ़ मेडिकल ऑफ़िसर, डॉ.बी.बी.सिंह ने कहा कि दोबारा RT-PCR टेस्ट की जायेगी. इससे पहले देश में कई कोविड पॉजिटिव महिलाओं ने स्वस्थ बच्चे जन्म दिये लेकिन इस तरह का मामला देश में पहले नहीं आया था। सर सुंदरलाल अस्पताल के डॉक्टर्स भी एक्सपर्ट्स से इस पूरे मामले पर सलाह-मशवरा कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!