KanpurNEWSUTTAR PRADESH

कोरोना के बाद भी कारगर रहेगा कोविड अस्पताल: डीजीपी

पुलिस लाइन में कोविड केयर अस्पताल के उद्घाटन पर बोले पुलिस महानिदेशक

कोरोना की संभावित तीसरी लहर में बड़ा कारगर साबित होगा पुलिस अस्पताल

कोविड-19 एक बाइलोजिकल डिजास्टर, सावधानी से ही हो सकेगा बचाव

कोरोना के खात्मे के बाद भी पुलिस अस्पताल से मिलता रहे पुलिस को इलाज

-उद्घाटन पर बोले डीजीपी अच्छे काम से हुई जनपद के निरीक्षण की शुरुआत

प्रवीण कुमार

कानपुर नगर। पुलिस कमिश्नरेट कानपुर नगर के कोविड केयर अस्पताल को माडल मानकर अब प्रदेश के हर जनपद में इलाज के लिए कुछ न कुछ इंतजाम किये जाएंगे। यह घोषणा उत्तरप्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल ने रविवार को कानपुर पुलिस लाइन स्थित, कोविड केयर अस्पताल के उद्घाटन अवसर पर की । उन्होंने पुलिस कमिश्नरेट कानपुर के प्रयास की सराहना करते हुए कोविड काल में कर्तव्य के लिए जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को भी याद किया।


डीजीपी ने कहा कि कोविड की पहली व दूसरी लहर पूरे देश के लिए चुनौतीपूर्ण समय था। यह देश के मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को एक चुनौती थी जिसमें फ्रंट लाइन पर काम करने वाले डॉक्टरों और पुलिसकर्मियों ने लोगों की जिंदगी बचाने के लिए बढ़ चढ़कर अपनी आहुति दी। उन्होंने कहा कि हर कार्य के लिए सरकार से अपेक्षा नहीं की जानी चाहिए बल्कि कुछ कार्य ऐसे भी हैं जिनके लिए व्यक्ति को स्वयं प्रयास करने होते हैं यह अस्पताल पुलिस प्रशासन और जनता के सम्मिलित सहयोग का एक उदाहरण है।

पुलिस महानिदेशक ने बताया कि आने वाले समय में अगर कोविड की तीसरी लहर आती है तो यह अस्पताल पुलिसकर्मियों और उनके परिवारीजनों के लिए बड़ा संबल बनेगा। उन्होंने कहा कि मात्र कोरोना काल में ही नहीं बल्कि इसके बाद भी यह अस्पताल संचालित रहना चाहिए ताकि आने वाले समय में पुलिसकर्मियों को प्राइवेट अस्पतालों की ओर रुख ना करना पड़े। इस अवसर पर डीजीपी ने कोविड केयर अस्पताल की स्थापना में मुख्य योगदान करने वाले मुथूट ग्रुप के संजय कुमार और मीडिया एक्सपर्ट टीम को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया।

इस अवसर पर पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने पुलिस कर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिल्डिंग बनाना आसान है लेकिन एक संस्था के रूप में वह काम करना बेहद मुश्किल कार्य है। मगर, कमिश्नरेट पुलिस ने यह एक पहल की है जिससे पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य और बेहतर होगा यह प्रयास वामा सारथी अभियान के तहत किया गया है। इस मौके पर महापौर प्रमिला पांडेय, मंडलायुक्त डॉ राजशेखर, डीएम आलोक तिवारी, एडीजी कानपुर जोन भानु भास्कर, आईजी कानपुर रेंज मोहित अग्रवाल, अपर पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी व आकाश कुलहरी सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!