NEWS

‘आशा की किरण महिला कल्याण सेवा समिति’ द्वारा ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ पर लोगों को योग करने के लिए किया गया प्रेरित करें योग रहे निरोग

गरुण कुमार
कानपुर नगर। अंतराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को 2015 से प्रतिवर्ष मनाया जा रहा है जो कि भारत की प्राचीन परम्परा है परन्तु दिन निश्चित न होने के कारण लोग इसके महत्त्व को भूल रहे थे। जिसके चलते प्रधानमंत्री मोदी जी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा मे अपने विचार प्रस्तुत किये और तब यह संभव हो पाया |

आशा की किरण महिला कल्याण सेवा समिति संस्थापक अध्यक्ष रितिका गुप्ता ने कहा की 21 जून जो वर्ष का सबसे बड़ा दिन होता है और मनुष्य को भी दीर्घायु करे इसके अनुसार ही यह दिन निश्चित किया गया| एक दिन योगा करने से कुछ नहीं होता परन्तु वर्ष मे एक दिन इस विषय पर चर्चा अवश्य होनी चाहिए जो हमारे शरीर के लिए लाभकारी है और सारे दिन हमें ऊर्जावान बनाये रखता है फिर भी हमलोग इस विषय से इतने दूर क्यूँ है?

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!